इटावा: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज इटावा में अपनी रैली के दौरान नाम लिए बगैर अपने चाचा शिवपाल यादव पर जम कर निशाना साधा. 
 
इटावा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश ने कहा,’जो साईकिल छीनने वाले थे, कम से कम उनकी साईकिल छीन गई.’ उन्होंने आगे कहा,’जिन पर हमने भरोसा किया, उन्होंने मुझे और नेता जी को लड़ा दिया.’
 
 
अखिलेश ने आगे कहा,’जिन्होंने मेरे और नेता जी के बीच खाई पैदा की है, इटावा के लोग उसे सबक सीखाने का काम करना.’ उन्होंने आगे कहा,’इन लोगों ने साजिश की जब पर्दाफाश हुआ तो कहते है विरासत में कुछ नहीं मिला.’ 
 
 
 
माना जा रहा है कि अखिलेश का निशाना उनके चाचा शिवपाल यादव पर था जो खुद इटावा की जसवंतनगर सीट से सपा के प्रत्याशी है. उन्होंने आगे कहा,’हमने सुना है यहां नई पार्टी बनने जा रही है. ये आरोप तो हम पर लगता था.’
 
 
उन्होंने पार्टी की गुटबाजी पर भी तीखा प्रहार करते हुए कहा,’सुना है इटावा में कहीं-कहीं चुपके-चुपके मोबाइल को साईकिल से हराने की बात हो रही है.’