नई दिल्ली : आजकल ‘दंगल’ और ‘पीके’ की काफी चर्चा है. दंगल समाजवादी पार्टी में भी है और कांग्रेस के पास एक पीके या प्रशांत किशोर हैं. लेकिन, पीके को दंगल ने पीछे छोड़ दिया है. वाकई इस दंगल के बाद एंटी इनकंबेंसी का फैक्टर यानी सरकार के खिलाफ वोट का फैक्टर हवा चुका है. उत्तर प्रदेश का दंगल शुरू हो चुका है. ‘दंगल’ फिल्म भी हिट रही है और अब तक सबसे ज्यादा बिजनस किया है. उत्तर प्रदेश की राजनीति भी कुछ ऐसी ही है कि अगर कहा जाए कि दिल्ली का रास्ता यूपी से होकर आता है, तो ये कहना गलत नहीं होगा. ऐसे में समाजवार्टी पार्टी के इस दंगल के कई मायने निकलते हैं.
 
सवाल उठता है कि क्या ये समाजवादी पार्टी सोची समझी रणनीति है? ऐसे में बीएसपी कहां है, बीजेपी कहां है, समाजवादी पार्टी के दो-दो गुट और कांग्रेस कहां है? क्या कांग्रेस और सपा में गठबंधन होगा? क्या अजीत सिंह की पार्टी आरएलडी इस महागठबंधन में शामिल होगी? क्या छोटी-छोटी पार्टियों को एकसाथ करके कांग्रेस और सपा का अखिलेश गुट मिलकर चुनाव लड़ेगा. इन सभी सवालों के जवाब जानने के लिए देखिए इंडिया न्यूज का खास शो ‘किस्सा कुर्सी का’.