नई दिल्ली. यूपी के सीएम अखिलेश यादव अपनी चुनावी रथयात्रा की शुरुआत कर रहे हैं. मंगलवार को अखिलेश के इस हाईटेक रथ की पहली झलक मीडिया को दिखाई गई थी और इसे देखकर साफ हो गया कि मुलायम परिवार में छिड़ी महाभारत का साफ और गहरा असर चुनावी अभियान में भी पड़ने वाला है.
 
अखिलेश के रथ में खुद अखिलेश की तस्वीर है, पिता मुलायम सिंह की तस्वीर है. समाजवाद के बड़े नेताओं, राममनोहर लोहिया, जेपी और जनेश्वर मिश्र की तस्वीर है, लेकिन चाचा शिवपाल की तस्वीर नहीं है. शिवपाल भी दाएं-बाएं से यही संकेत दे रहे हैं कि उनका इस रथयात्रा से कोई लेना-देना नहीं है.
 
यूपी चुनाव को लेकर दूसरी बड़ी हलचल ये हुई है कि कांग्रेस के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने कल दिल्ली में मुलायम सिंह यादव से उनके घर पर मुलाकात की. माना जा रहा है कि बीजेपी को रोकने के लिए,, कांग्रेस नई रणनीति के तहत समाजवादी पार्टी को साथ लेकर बिहार की तर्ज पर महागठबंधन करना चाहती है. हलांकि अभी इस फॉर्मूले में कई किंतु-परंतु हैं. देखिए ‘किस्सा कुर्सी का’ सिर्फ इंडिया न्यूज पर