नई दिल्ली. जैसे जैसे यूपी चुनाव के दिन नजदीक आते जा रहे हैं, यूपी की सत्ताधारी पार्टी में पड़ी खटास और उभरकर सामने आ रही है .यूं तो समाजवादी पार्टी के अंदर ये जंग एक अरसे से छिड़ी है लेकिन बीते करीब महीनेभर से नेताओं में दूरियां और मनमुटाव ज्यादा ही जाहिर होने लगी हैं.
 
ताजा तस्वीर आज लखनऊ के लोहिया पार्क की हैं. समाजवादी आंदोलन के अगुवा माने जाने वाले राममनोहर लोहिया की आज 50 वीं  पुण्यतिथि है लेकिन लोहिया के नाम की माला जपने वाले समाजवादी परिवार को लोहिया भी एकजुट नहीं रक पाए.
 
उनकी पुण्यतिथि के मौके पर लखनऊ में हुए सरकारी कार्यक्रम में सीएम अखिलेश, कैबिनेट मंत्री और एसपी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल और एसपी के मुखिया मुलायम सिंह तीनों अलग अलग पहुंचे, और मूर्ति पर माला चढ़ाकर निकल गए..तीनों नेता, न तो एक साथ आए और न ही किसी ने.
 
दूसरे के पहुंचने का इंतजार किया. अब सवाल ये है कि पार्टी में सबकुछ ठीकठाक होने के बयान, जो हर झगड़े के बाद दिए जाते हैं, वो बेमतलब हैं ? हकीकत तो कुछ और है, जो तस्वीरों में साफ दिख रही है.
 
(वीडियो में देखें पूरा शो)