नई दिल्ली. आगामी यूपी चुनावों के लिए कांग्रेस को जगाने निकले राहुल गांधी की किसान यात्रा आज दिल्ली के जंतर-मंतर पहुंचकर खत्म हो गई है. किसान यात्रा की मंजिल भले ही आ गई हो लेकिन कांग्रेस की असल मंजिल तो फिलहाल लखनऊ है, जो मौजूदा हालात में दूर दिखाई दे रही है. बहरहाल बात किसान यात्रा की करें तो 26 सितंबर को देवरिया के रुद्रपुर से राहुल की यात्रा शुरु हुई थी.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
किसानों की समस्याओं की ओर मोदी सरकार का ध्यान खींचने के बहाने राहुल गांधी यूपी जनता के बीच कांग्रेस की खोई जगह तलाशने की कवायद की. इसके लिए वो सब टोटके आजमाए गए जिनसे गांधी परिवार अब तक परहेज करता रहा है. राहुल ने मंदिरों में जाकर पूजापाठ किया, तो दरगाहों में चादरपोशी की, चर्च और गुरुद्वारे भी गए.
 
इस दौरान यूपी के किसानों से कर्जमाफी के करीब 75 लाख मांग पत्र भी भरवाए गए. 48 जिलों से होते हुए आज राहुल की किसान यात्रा दिल्ली पहुंच गई है. राहुल गांधी के साथ बाकी कांग्रेसी नेता और बड़ी तादाद में कार्यकर्ता, जंतर-मंतर पर जमा हुए हैं.
 
(वीडियो में देखें पूरा शो)