नई दिल्ली. समाजवादी पार्टी में आखिर हो क्या रहा है? जोर शोर से पूछे जा रहे इस सवाल का जवाब कल शाम खुद पार्टी के मुखिया यानि नेताजी ने ही दे दिया. मुलायम सिंह यादव की सियासी गणित ने अमर सिंह फॉर्मूले से कौन सा समीकरण हल किया ये तो पता नहीं लेकिन उन्होंने सीएम बेटे की हैसियत जरूर एक हफ्ते में दो बार नाप दी.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, रामगोपाल और अक्षय यादव के खुलकर बोलने के बावजूद मुलायम सिंह यादव ने अमर सिंह को पार्टी महासचिव बनाने का एलान कर दिया. अमर सिंह उनका शुक्रिया कह रहे हैं. शिवपाल यादव शुरु से अमर का बचाव कर रहे थे.
 
मुलायम के इस फैसले से ये सवाल भी उठ रहे हैं कि क्या विरासत की जंग में अखिलेश पर भारी पड़ गए शिवपाल ? लेकिन इससे भी बड़ा सवाल ये है कि इतनी छीछालेदर के बाद अब अखिलेश क्या करेंगे ? कैसे सरकार चलाएंगे और कैसे चुनाव में उतरेंगे ?
 
के खास शो ‘किस्सा कुर्सी का‘ इसी अहम मुद्दे पर पेश है चर्चा. 
 
(वीडियो में देखें पूरा शो)