रायबरेली. आगामी उत्तर प्रदेश चुनाव 2017 से पहले जनता के मूड को जानने के लिए इंडिया न्यूज की टीम रायबरेली के बछरावां पहुंची. रायबरेली को कांग्रेस के शासन का गढ़ माना जाता है क्योंकि कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी यहां से सांसद हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
लेकिन जनता ने जो हालात बयां किए वह कुछ और ही है. जनता ने कांग्रेस के साथ-साथ सत्तारुढ़ समाजवादी पार्टी की भूमिका पर भी सवाल उठाए. जिसमें लोगों ने बिजली न आने से लेकर सड़कों में गड्डे पढ़ने की समस्या बताई.
 
एक तरफ सपा नेताओं ने अखिलेश सरकार की तारीफ के पुल बांधे वहीं जनता ने कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए. जनता ने आरोप लगाया है कि पुलिस सिर्फ सपा नेताओं के इशारों पर काम करती है अगर नेता ने कहा तो ही FIR होती है नहीं तो कोई कार्रवाई नहीं की जाती है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
इतना ही नहीं लोगों का कहना है कि क्षेत्र में चल रही सरकारी योजनाओं में जातीय आधार पर भेदभाव किया जाता है. इंडिया न्यूज की खास पेशकश ‘किस्सा कुर्सी का’ में देखिए क्या हाल है रायबरेली के बरछाव में साथ ही यूपी चुनाव से पहले जनता का मूड क्या है ?
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो