रियाद. दुनिया में पहली बार ऐसा हुआ है जब किसी रोबोट को देश की नागरिकता मिली हो. जी, हां सऊदी अरब की राजधानी रियाद में सोफिया को नागरिकता मिली है. सोफिया कोई और नहीं बल्कि एक रोबोट है. जिसे सऊदी अरब सरकार ने सोफिया को ये दर्जा फ्यूचर इन्वेस्टमेंट इनिशिएटिव के लिए दिया गया है. इतना ही नहीं रोबोट सोफिया को नागरिकता दिए जाने की कवायद शुरू भी हो चुकी है. इसी के साथ सऊदी अरब विश्व का ऐसा पहला देश बन गया है जिसने रोबोट को नागरिकता दी हो.
 
राजधानी रियाद में चले एक बिजनेस इवंट के दौरान सोफिया को जब देश की नागरिकता मिली तो सभी हैरान हो गये थे. इस इवेंट में करीब 85 देशों के इंवेस्टर मौजूद थे. खास बात ये है जैसे ही घोषणा हुई उसके सोफिया (ह्‌यूमनॉएड आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस रोबोट) ने धन्यवाद कहा. ये रोबोट हेसन रोबोटिक्स के द्वारा बनाया गया है. सोफिया रोबोट की खास बात ये है कि ये रोबोट रोजमर्रा के काम करने के साथ आसानी से बातचीत करने में सक्षम भी है. इस बिजनेस इंवेट में पत्रकारों के प्रश्नों के उत्तर भी सोफिया ने बेहद आसानी से दिए और इंवेट में मौजूद सभी लोगों  को थैक्स कहा. 
 
बता दें एक ओर जहां सोफिया की नागरिकता का कई देशों ने स्वागत किया तो वहीं इस फैसले से देश की महिलाओं ने प्रश्न उठाए. महिलाओं का मनाना है कि इस रोबोट के पास एक हमसे ज्यादा अधिकार है. इस इवेंट के बाद सोशल मीडिया पर कुछ लोगों ने जमकर खिल्ली उड़ाई. एक ट्विटर ने ट्वीट किया कि बिना बुक्रे वाली महिला रोबोट सड़कों पर कैसे घूमगे. गौरतलब है कि सऊदी अरब में महिलाओं के लिए बुर्का और हिजाब पहनना अनिवार्य है.