दुबई. दुबई में रहने वाला एक भारतीय इंसाफ के लिए 1000 किलोमीटर पैदल चला है. वह घर लौटना चाहता था और उसे इसकी इजाजत नहीं मिल रही थी. वतन वापस आने के लिए  उसे अदालत से इंसाफ चाहिए था क्योंकि अपनी मां के अंतिम संस्कार में भाग लेने के लिए उसे वतन  जाने की इजाजत  नहीं दी गई. 
 
उसे अदालत की कार्रवाई में भाग लेना था इसीलिए उसे इतना ज्यादा पैदल चलना पड़ा. इस आदमी का नाम जगन्नाथ है. वह मूलरुप से दक्षिण भारत के  के तिरुचिरापल्ली का रहने वाला है. बता दें कि कल यानी मंगलवार को वहां के एक अखबार में यह खबर छपी थी.
 
उसे अदालत की कार्रवाही में भाग लेने के लिए बहुत तकलीफों का सामना करना पड़ा लेकिन फिर भी उसने हार नहीं मानी. अदालत आने में जाने में उसे चिलचिलाती धूप, गर्मी और आंधी का सामना करना पड़ता था. उसे रेगिस्तान में भी बहुत दूर तक चलना पड़ता था.  
 
इसलिए उसने न्याय के लिए सेल्सराज की अदालत तक की  50 किलोमीटर की यात्रा रोज पैदल चलकर करता था. क्योंकि उसके पास बस का किराया देने तक का पैसा नहीं था. उसनें वहां के अखबर खलीज टाइम्स को बताया की वह सार्वजनिक पार्क में रहता है और वतन जाने के लिए बहुत परेशान है. उसनें कहा कि वह जल्दी से अपने वतन भारत लौटना चाहता है.