नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनके खास दोस्त जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे की दोस्ती अब लाखों भारतीयों के लिए फायदे का सौदा साबित हो सकती हैं. शिंजो ने लाखों भारतीय बेरोजगारों को नौकरी देने का फैसला किया है.
 
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक तो कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय जापान के टोक्यो में साल 2020 में होने वाले ओलंपिक गेम्स को देखते हुए जापान एक लाख से ज्यादा भारतीयों को अपने यहां नौकरी दे सकता है.
 
दरअसल जापान में होने जा रहे इस मेगा इवेंट को देखते हुए वहां पर विदेशी कामगारों की बहुत कमी है. जिस वजह से आने वाले दिनों में कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय 10 हजार युवाओं को जल्द ही एक साथ टोक्यो भेजने वाला है. जहां पर इन लोगों को जापान की अतंराष्ट्रीय ट्रेनिंग प्रोग्राम के तहत कई तरह की ट्रेनिंग भी दी जाएगी.
 
जापान की डिमांड के मुताबिक युवाओं के कई ग्रुप्स को भेजा जाता रहेगा. जापान जाने वाले इन भारतीय युवाओं को ओलंपिक गेम्स के अलावा बुलेट ट्रेन फैक्ट्री, कन्सट्रक्शन्स साइट्स, हाई स्पीड कोरिडॉर जैसे कई बड़े प्रोजेक्ट पर काम करने का मौका दिया जाएगा. इसका मतलब है कि टोक्यो में होने वाला ओलंपिक बेरोजगार भारतीय युवाओं के लिए फायदेमंद साबित होने वाला है.