नई दिल्ली. बिहार का चुनावी समर अपने शबाब पर है. सियासत के सूरमा बिहार की सरज़मी पर अपने अपने हिस्से की बिसात बिछाए हुए हैं. मगर एक दूसरे को परास्त कर देने की रणनीति में अब विकास का मुद्दा, बिजली-पानी का मुद्दा,रोटी का मुद्दा, रोजगार का मुद्दा, ये सारे मुद्दे पीछे छूट गए हैं, और इनकी जगह बिहार के चुनाव में तंत्र-मंत्र, जादू टोना, काला कबूतर ने ले ली है.
 
आज जनगणमन में यही सवाल है कि बिहार चुनाव का क्या मुख्य मुद्दा विकास है…या तंत्र मंत्र जादू टोना?
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो: