नई दिल्ली. हिन्दुस्तान में एक नई बहस छिड़ी हुई है कि हिन्दूओं में दलित समुदाय के धार्मिक अधिकार कितने हैं? इसके साथ ही सियासी गलियारे में अक्सर ये चर्चा का मुद्दा बना रहता है कि दलित समुदाय किस पार्टी के साथ हैं?
 
पार्टियों की नजर वोट बैंक पर होती है और धर्म पर अपना एकाधिकार मानने वाले कुछ लोग दलितों को अलग रखना चाहते हैं. ऐसा आरोप अक्सर लगता रहता है.
 
इन्ही सवालों के बीच आध्यात्मिक गुरु पवन सिन्हा जी ने एक नई बहस छेड़ दी है. इंडिया न्यूज के खास शो जनगणमन में इसी मुद्दे पर पेश है चर्चा.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो