नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव के दौरान मोदी के दो वादे जनता को खूब भाए थे.  पहला जो उन्होंने अच्छे दिन लाने का किया था और दूसरा जो उन्होंने भरोसा दिलाया था कि अगर वो सत्ता में आए तो सबका साथ लेकर सबका विकास करेंगे. अब मोदी सरकार के इस दावे की पड़ताल का वक्त आ चुका है. क्या वाकई प्रधानमंत्री मोदी सबका साथ ले रहे हैं ? क्या वाकई मोदी सबका साथ लेकर सबका विकास कर रहे हैं ? 

इसी गंभीर सवाल की तह तक जाने के लिए इंडिया न्यूज़ ने पिछले दिनों किया है सबसे बड़ा सर्वे. जिसमें15 राज्यों के 67 शहरों को चुना और 67 शहरों के 6700 सौ से अधिक लोगों से इसी सवाल पर जानी उनकी राय.