नई दिल्ली. महाराष्ट्र के शनि शिंगणापुर मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर रोक जारी रहेगी. विवाद सुलझाने के लिए आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर की मध्यस्थता में मंदिर ट्रस्ट और भूमाता महिला ब्रिगेड के बीच हुई बैठक नाकाम साबित हुई. शनि शिंगणापुर ट्रस्ट का साफ साफ कहना है कि मंदिर में किसी भी महिला को पूजा की इजाजत नहीं मिल सकती जबकि भूमाता महिला ब्रिगेड भी अपनी मांग से पीछे हटने को बिल्कुल राजी नहीं.

जन गण मन में आज की सबसे बड़ी बहस है आधी आबादी के धार्मिक अधिकारों पर. सिर्फ हिंदू धर्म में ही नहीं. मुस्लिम महिलाओं के लिए भी मस्जिदों और कई दरगाहों पर पाबंदी लागू है. सवाल है कि हर धर्म में महिलाओं के साथ भेदभाव क्यों होता है ?

वीडियो में देखें पूरा शो