नई दिल्ली : आज के समय में बच्चे बेहद गुस्सा करने लगे हैं. छोटे-छोटे बच्चों को भी जरा-जरा सी बात में गुस्सा आ जाता है. ऐसा कुंडली में ग्रहों की चाल की वजह से होता है.
 
जन्मकुंडली के अंदर अगर किसी भी तरह से लगन के साथ, सूर्य के साथ या मंगल के साथ में राहु का संबंध बन जाए तो ये बच्चे के अंदर उतावलापन और गुस्सा बढ़ाने का काम करते हैं. और सबसे ज्यादा बुरा योग तो तब बनता है कि अगर मंगल बुध का मेल हो और साथ में राहु मिल जाए तो ये बच्चे के अंदर गुस्से की मात्रा को बढ़ा देता है.
 
 
राहु ही हमेशा हमारे विचारों का कारण रहा है. और जो गुस्से वाले विचार रहे हैं उनके पीछे हमेशा मंगल और राहु कारक रहते हैं. आज का जो जमाना है ये तो है ही राहु प्रधान जमाना.
 
गुस्से पर कंट्रोल करने से जुड़े सारे उपाय बताएंगे एस्ट्रो साइंटिस्ट जीडी वशिष्ठ इंडिया न्यूज के खास प्रोग्राम गुरु मंत्र में.