नई दिल्ली. 2015 में डेंगू के मामलों में लगातार वृद्धि हो रही है ऐसे में आपको डेंगू के कारणों और उससे बचाव के बारे में पता होना जरूरी हैं. जानिए, डेंगू से कैसे बचाव किया जा सकता है. डेंगू एक ऐसी बीमारी हैं जो एडिस इजिप्टी मच्छरों के काटने से होती हैं. इस रोग में तेज बुखार के साथ शरीर पर चकते बनने शुरू हो जाते हैं. 
 
जहां यह महामारी के रूप मे फैलता है वहाँ एक समय मे अनेक प्रकार के विषाणु सक्रिय हो सकते है. डीज एजिप्टी मच्छर ज्यादातर दिन में काटते हैं ऐसे में पानी के कंटेनर खाली कर दें और जिन जगहों पर पानी के जमा होने की उम्मीद हैं वहां कीटनाशकों का उपयोग करें. टायर, बोतलें, कूलर, गुलदस्ते इनको अक्सर खाली करना चाहिए क्योंकि इन जगहों पर डेंगू के मच्छर अधिक होते हैं. साथ ही घर के अंदर और आसपास भी पानी जमा ना होने दें. इतना ही नहीं, किसी भी बर्तन में लंबे समय तक पानी ना रखें. कूलर का पानी अक्सर बदलते रहे और हर सप्ताह उसमें कीटनाशक दवाई डालें. जिन बर्तनों में पानी रखा हो उसे ढककर रखें.
 
कुछ प्राकृतिक उपाय
मच्छर घर में ना पनपे इसके लिए अपने घर की खिड़कियों पर तुलसी का पौधा भी रख सकते हैं इससे मच्छर नहीं होंगे. कमरों के खिड़की-दरवाजें बंद करके कपूर जला लें और 15 से 20 मिनट कमरों को बंद रखें. इससे आप मच्छरों को आसानी से दूर कर सकते हैं. शाम को घर में नीम का धुआं करने से भी मच्छर नहीं आते.