नई दिल्ली. नवरात्रि में सच्चे हृदय से की गई पूजा मां देवी अवश्य स्वीकार करती हैं. आज सर्व पितृ अमावस्या के साथ पितृ पक्ष समाप्त हो रहा है और शनिवार से नवरात्रि शुरू हो रही है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
पूजा-पाठ में व्रत-उपवास का बहुत महत्वपूर्ण होता है, लेकिन इससे पहले यह जानना जरूरी है कि आखिर कौन-कौन से उपवास कर सकते हैं. उपवास के क्या नियम हैं.
 
आज के इस खास शो में आध्यात्मिक गुरु पवन सिन्हा आपको बताएंगे नवरात्रि में उपवास के नियम और विधि. वीडियो में देखें पूरा शो