नई दिल्ली. शक्तिशाली शाबर मंत्र पहले से ही शक्तियों से परिपूर्ण और सिद्ध होते हैं. इन मंत्रों के केवल उच्चारण मात्र से व्यक्ति के सारे कार्य सिद्ध हो जाते हैं. इनके प्रयोग बहुत ही प्रभावी होता है. इन मंत्रों की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इन प्रभाव स्थिर होता है तथा इनकी काट निश्चित नहीं होती है. यह मंत्र आम बोल चाल की भाषा में होते हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
शाबर मंत्रों के प्रवर्तक मूल रूप से भगवान शिव के परम भक्त थे. शाबर मंत्रों की उत्पत्ति का श्रेय गुरु गोरखनाथ और गुरु मछन्दर नाथ को जाता हैं. शाबर मंत्र का उच्चारण कैसे करे बताएंगे अध्यात्मिक गुरु पवन सिन्हा इंडिया न्यूज के शो गुडलक गुरु में
 
वीडियो में देखे पूरा शो
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter