नई दिल्ली. किसी ग्रह का नीच भाव में होना या पाप ग्रहों द्वारा सीधा देखा जाना कुंडली में दोष उत्पन्न करता है. इस दोष के कारण आपके कई बनते काम बिगड़ने लगते है, इसलिए इंडिया न्यूज शो गुडलक गुरु में आध्यात्मिक गुरु पवन सिन्हा कहते हैं कि  यह दोष पूर्व जन्म के भी हो सकते हैं या फिर इसी जन्म के, जिसके कारण कुंडली दोषपूर्ण से जिस ग्रह को यह प्रभावित करती है उसके शुभ फल व्यक्ति को नहीं मिल पाते.