नई दिल्ली. वास्तु शास्त्र के अनुसार घर के मुख्य द्वार की स्थिति का सीधा संबंध उस घर में रहने वाले लोगों की सामाजिक, मानसिक और आर्थिक स्थिति से होता है.

घर का मुख्य द्वार वास्तु दोषों से मुक्त हो, तो घर में सुख-समृद्धि, रिद्धी-सिद्धि रहती है, सभी प्रकार के मंगल कार्यों में वृद्धि होती है और परिवार के लोगों में आपसी समंजस्य बना रहता है.  

घर का मुख्य द्वार वास्तु दोष से मुक्त होना अत्यंत आवश्यक है. यदि इसमें कोई दोष हो, तो इसे तुरंत वास्तु उपायों के द्वारा ठीक कर लेना चाहिए.

इंडिया न्यूज़ के खास शो गुडलक गुरू में अत्याधमिक गुरू पवन सिन्हा आपको बताएंगे की कैसे आप अपने घर का वास्तु बदलने से अपनी जिंदगी बदल सकते हैं.

वीडियो में देंखे पूरा शो