नई दिल्ली. किसी भी घर या जमीन के मालिकाना हक के लिए रजिस्ट्री का होना जरुरी होता है. रजिस्ट्री वह कानूनी कागज है जो ये बताता है कि आपने जो जमीन, प्लाट या घऱ खरीदा है वह कानूनी तौर पर वैध है. लेकिन नोएडा सेक्टर 150 में आईएफआई प्राईवेट लिमिटेड ने ग्राहकों को जमीन बेच डाली और सैकड़ो ऐसे लोग हैं जिनके पास प्लाट की रजिस्ट्री के पेपर है लेकिन उन लोगों का जमीन पर कोई हक नहीं है.
 
इसी बीच बिल्डरों की धोखाधड़ी के अलावा उनकी वादाखिलाफी भी बदस्तुर जारी है जिसकी वजह से देश में हज़ारों की तादाद में प्रोजेक्ट्स अधूरे पड़े हुए हैं. इसी समस्या के समाधान के लिए एक नए टेक्नोलॉजी को ग्राहकों के लिए पेश किया गया है. उस टेक्नोलॉजी का नाम है प्री कास्ट टेक्नोलॉजी.
 
ये टेक्नोलॉजी उन लोगों के लिए भी शानदार है जो जल्दी से जल्दी अपना घर बनाना चाहते हैं. हैरानी होगी सुनकर कि आप महज 90 दिनों में सपनों का घर बना सकते है.