नई दिल्ली. कहा जाता है कि व्यक्ति की लिखावट और हस्ताक्षर उसकी शख्सियत की पहचान होती है. किसी भी इंसान के हस्ताक्षर से उसके व्यक्तित्व का अंदाजा लगाया जा सकता है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
आज के इस खास शो में हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जैसे शख्सियतों के सिग्नेचर की बात करेंगे. सबसे पहले नरेंद्र मोदी के सिग्नेचर की बात करें तो वे गुजराती भाषा में सिग्नेचर करते हैं.
 
उनके सिग्नेचर से साबित होता है कि वे अपनी मिट्टी से जुड़े हैं. दूसरी बात यह है कि नरेंद्र में न और र के बीच बंद नहीं करते. इस यह बात सामने आती है कि मोदी किसी बात को लेकर लंबा खींचते नहीं और न ही किसी के साथ भावनात्मक रुप से जुड़ते हैं.
 
वीडियो में देखें महात्मा गांधी का सिग्नेचर और देखिए कि आप कैसे करते हैं  सिग्नेचर क्योंकि सिग्नेचर तय करता है आपका भविष्य.