नई दिल्ली. जीवन में धन का होना सौभाग्य, शक्ति और वैभव का प्रतीक है, लेकिन धन को बनाये रखना एक बड़ी समस्या है, क्योंकि लक्ष्मी चंचला होती हैं. हिंदू पूजा और तंत्र शास्त्र में धनी व्यक्ति का अर्थ केवल सांसारिक रूप से ही धनी नहीं होना है, वरन मानसिक और पारिवारिक रूप से संपन्न, समृद्ध और शांति प्राप्त करनेवाला माना जाता है. मां लक्ष्मी धन की देवी हैं, तो कुबेर धन के संरक्षक हैं. धन प्राप्ति के लिए लक्ष्मी और कुबेर दोनों की कृपा जरूरी है.
 
शास्त्रों में स्वच्छता एवं सुव्यवस्था के स्वभाव को भी श्री कहा गया है. लक्ष्मी प्राप्ति के लिए न केवल घर को स्वच्छ रखने के अलावा महालक्ष्मी को प्रसन्न करने वाली गुप्त साधना की जरुरत है.
 
वीडियो में देखे पूरी शो