कोलकाता. बॉलीवुड स्टार अमिताभ बच्चन ने कोलकाता अन्तर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल का उद्घाटन करते हुए कहा कि देश में आज संस्कृति पर सवाल उठ रहे हैं लेकिन हमारा समाज सहिष्णु है. उन्होंने कहा,’भारत की विविधता ही उसकी संस्कृति है. विविधता में एकता ही हमारी पहचान है. समाजों के विरुद्ध पूर्वाग्रह से विश्व के बंटने का खतरा पैदा हो गया है. भारतीय फिल्में साम्प्रदायिक सौहार्द्र और प्रेम के वातावरण को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती आ रही हैं.’
 
अमिताभ बच्चन का यह बयान ऐसे समय सामने आया है जब देश में सहिष्णुता के विषय पर बहस जारी है. एक ओर कई बुद्धिजीवियों ने जहां देश में असहिष्णुता का वातावरण तैयार किए जाने के विरोध में अपने सम्मान लौटा दिए हैं वहीं अनुपम खेर सरकार के पक्ष में मार्च निकाल चुके हैं.