कोलकाता. भारतीय संगीत के दिग्गज किशोर कुमार के बेटे गायक अमित कुमार ने नोबेल पुरस्कार विजेता रवींद्र नाथ टैगोर की कालजयी रचनाओं को एक नए संगीत एल्बम के जरिए पहली बार अपनी आवाज दी है. ‘ऐबार आमाय देकले दूरे’ नाम के इस एल्बम को उत्तरी कोलकाता स्थित टैगोर के पैतृक घर जोड़सांको ठाकुरबाड़ी में लांच किया गया. एल्बम की रिलीज के दौरान अमित ने कहा, ‘एल्बम ‘ऐबार आमाय देकले दूरे’ वास्तव में मेरे कैरियर का मील का पत्थर है. मैंने तीन दशक पहले रवींद्रनाथ संगीत एल्बम बनाने की योजना बनाई थी, लेकिन दुर्भाग्यवश मैं इस पर काम नहीं कर सका. मुझे उम्मीद है कि लोग इसके गाने पसंद करेंगे.’

इस एल्बम में 10 गाने हैं, जिनमें सुप्रसिद्ध ‘भेंगे मोर घोर एर चाबी’ और ‘ऐबार आमाय देकले दूरे’ भी शामिल हैं. अमित ने हाल ही में फिल्म उद्योग में 50 साल पूरे कर लिए हैं. उन्हें 1980 के सफलतम गीत ‘याद आ रही है’ और ‘एक दो तीन’ के लिए जाना जाता है. अपने पिता के अलावा उन्होंने आर.डी. बर्मन, लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल, कल्याणजी-आनंदजी और आनंद-मिलिंद के साथ काम किया है. इस एल्बम को सागरिका म्यूजिक ने रिलीज किया है और इसमें संगीतकार देवजीत रे ने संगीत दिया है.

IANS