मुंबई. शिवसेना की ओर से पाकिस्तानी कलाकारों को निशाना बनाए जाने के बाद बॉलीवुड अब खुलकर उनके समर्थन में आ गया है. उनका कहना है कि कला का गला नहीं घोटना चाहिए. कला और संस्कृति किसी बंधन में नहीं बधें है.
 
इन चीजों को राजनीति के तराजू में नहीं तोलना चाहिए. महाराष्ट्र में शिवसेना ने पिछले दिनों पाकिस्तानी गजल गायक गुलाम अली का संगीत कार्यक्रम रद्द किए जाने के लिए मजबूर कर दिया था. शिवसेना कार्यकर्ताओं ने यह भी कहा कि वे किसी भी पाकिस्तानी कलाकार, क्रिकेटर या कलाकार को महाराष्ट्र में कदम नहीं रखने देंगे.
 
बॉलीवुड हस्तियां संगीत कार्यक्रम ‘ब्यूटी एंड द बीस्ट’ के प्रीमियर पर शिवसेना की धमकी पर रिएक्शन देते हुए कहा कि कला और संस्कृति को राजनीति से दूर रखना चाहिए. कला राजनीती से काफी ऊपर है, हर चीज को राजनीति से नहीं जोड़ना चाहिए. ये गलत है इससे कला का अपमान होता है.
 
फिल्म निर्देशक अनुराग बासु ने कहा, ‘हमें इसके पीछे की वजह या मंशा नहीं मालूम. यहां कुछ पाकिस्तानी फिल्में भी रिलीज हुई थीं, उस वक्त ये लोग कहां थे?’ 
 
‘बजरंगी भाईजान’ के निर्देशक कबीर खान ने कहा, मेरा मानना है कि कला और संस्कृति को राजनीति से दूर रखना चाहिए. राजनीति की अपनी जगह और संस्कृति की अपनी अलग जगह है. ‘अभिनेता इमरान हाशमी ने कहा, ‘कला हम सब से ऊपर है इसका साथ देना चाहिए न की विरोध करना चाहिए.’