इस्लामाबाद. पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद महमूद कसूरी ने मुंबई में अपनी पुस्तक के विमोचन के बाद कहा है कि जाने-माने फिल्म अभिनेता दिलीप कुमार दो बार गुप्त मिशन पर पाकिस्तान गए थे. कसूरी ने कहा कि अपनी इस यात्रा के खिलाफ सोमवार को हिंसक विरोध प्रदर्शन के बाद मैंने सोचा कि शांति के महान प्रेरकों के साथ कुछ समय बिताना चाहिए.
 
कसूरी ने कहा, “मैंने मणि भवन में महात्मा गांधी के अनुयायियों से मुलाकात की. गांधी ने भारत से पाकिस्तान को बकाया धनराशि दिलाने के लिए अनिश्चितकालीन अनशन किया था. इसे पाकिस्तान में कोई नहीं जानता. इसके बाद मैं जिन्ना हाउस गया और उसकी दशा देखकर मेरा दिल टूट गया. इसे आसानी से मुंबई में पाकिस्तान का वाणिज्यदूतावास बनाया जा सकता था.
 
अपनी भारत यात्रा के आखिरी दिन कसूरी ने दिलीप कुमार से मुलाकात के बारे में कहा, “दिलीप साहब की पत्नी सायरा बानो ने मुझे बताया कि वह दो बार गुप्त मिशन पर भारत सरकार की तरफ से विशेष विमान से पाकिस्तान गए थे. मुझे लगता है उनका पहला दौरा जिया-उल-हक के शासन काल में हुआ था और दूसरी बार वह हाल ही में पाकिस्तान गए थे.
 
IANS