मुंबई. राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता निर्देशक मधुर भंडारकर की फिल्म ‘कैलेंडर गर्ल्स’ आज सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है. मधुर भंडारकर का कहना है कि इस फिल्म में केवल जिस्म की नुमाइश नहीं की गयी है बल्कि इसमें और काफी कुछ दिखाया गया है. फिल्म देख चुके लोगों ने इंडिया न्यूज़ से बताया कि फिल्म बेहतरीन है और कैलेंडर गर्ल्स बन चुकीं लड़कियों की जिंदगी में आने वाली परेशानियों को बखूबी दिखाती हैं. 
  
महिला प्रधान फिल्में बनाने के लिए जाने जाने वाले मधुर की फिल्म ‘कैलेंडर गर्ल्स’की कहानी कैलेंडर मॉडल्स की जिंदगी के इर्द-गिर्द घूमती है. मधुर ने ‘पीटीआई भाषा’को बताया, ‘‘इस फिल्म में काफी कुछ है. मैं इस बारे में बात नहीं कर सकता. मैंने अच्छा और बुरा दोनों हिस्सा दिखाया है. हमने पांच कैलेंडर लड़कियों के सफर को दिखाया है. यह फिल्म जिस्म नुमाइश और बिकनी के बारे में नहीं है, यह प्रदर्शन के बारे में है.’’ उन्होंने बताया, ‘‘एक निर्देशक के रूप में इस फिल्म के प्रति मेरी जिम्मेदारी है, यह कहानी के रूप में सही होना चाहिए.’’