नई दिल्ली. मशहूर स्क्र‍िप्ट राइटर सलीम खान ने एक निजी न्यूज़ चैनल से बातचीत में कहा है कि उनके बेटे सलमान खान को उस मामले में ट्वीट नहीं करना चाहिए था, जिसके बारे में उन्हें जानकारी कम हो. हालांकि सलीम ने साथ ही यह भी कह दिया कि सलमान एक सेलेब्रिटी है और इसके कारण ही उन्हें जानबूझकर निशाना बनाया जाता है.

सलीम खान याकूब मेमन की फांसी के मामले में सलमान के ट्वीट्स की पहले भी आलोचना कर चुके हैं और इस इंटरव्यू में भी उन्होंने ‘भाईजान’ के ट्वीट्स को ‘बेवकूफी भरी बातें’ करार दिया. सलीम ने इस इंटरव्यू में कहा कि अन्य लोगों को भी सलमान के उन ट्वीट्स को उनकी बेवकूफी समझकर खारिज कर देना चाहिए था.

उन्होंने कहा, अगर सलमान सेलेब्रिटी नहीं होते, तो उनके खिलाफ इतना विरोध प्रदर्शन नहीं हुआ होता. सलीम ने कहा कि याकूब की फांसी की सजा पर रोक लगाने की मांग कई अन्य लोगों ने भी की थी, लेकिन उनके घर पर कोई विरोध प्रदर्शन नहीं हुआ. उन्होंने कहा, ‘प्रदर्शनकारी किसी और के घर पर जाते, तो उन्हें इतनी पब्ल‍िसिटी नहीं मिलती, जितनी हमारे घर पर प्रदर्शन से मिली.’

सलीम ने कहा, बीजेपी नेता आशीष शेलार ने सलमान की जमानत रद्द करने की मांग की. यही नहीं, बीजेपी सांसद किरीट सोमैया ने तो इस मुद्दे को संसद में उठाने तक की बात कही, जैसे देश में इससे बड़ी कोई समस्या ही ना हो. उन्होंने कहा, बीजेपी नेता की सलमान के साथ निजी समस्या है. सलीम खान ने ‘दबंग’ खान के बारे में कहा, ‘मुझे बड़ी खुशी होती है, जब कोई मुझे कोई सलमान का पिता कहता है. हर पिता की यही तो चाह होती है कि उसका बेटा उससे आगे निकले.’ सलीम ने कहा, ‘मैं इस मुल्क से बहुत मोहब्बत करता हूं.’