नई दिल्ली. शारदा चिट फंड घोटाले में नाम आने के बाद अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती ने आज 1.19 करोड़ प्रवर्तन निदेशालय को लौटा दिए हैं. इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय ने मिथुन को लेन-देन संबंधी दस्तावेज मुहैया न कराने पर समन जारी किया था. दरअसल, मिथुन पर इस समूह से करीब 2 करोड़ रुपये लेने का आरोप लगा था. वह शारदा समूह की एक मीडिया इकाई के ब्रांड एम्बैसडर थे.

जब उनसे इस घोटाले के मामले में सवाल किए गए तो मिथुन ने जांचकर्ताओं को कहा कि उनके संबंध इस समूह से पूरी तरह प्रोफेशनल थे और उनका इरादा किसी से धोखधड़ी का नहीं था. गौरतलब है कि शारदा ग्रुप की चार कंपनियों का इस्तेमाल तीन स्कीमों के जरिए पैसा इधर-उधर करने में किया गया. ये तीन स्कीम थीं, फिक्स्ड डिपॉजिट, रिकरिंग डिपॉजिट और मंथली इनकम डिपॉजिट. इन स्किमों के जरिये हजारों निवेशकों का पैसा हड़पा गया. तृणमूल के कई नेताओं और सांसदों का नाम इससे जुड़ा है.

एजेंसी से भी इनपुट