नई दिल्ली/पुणे. बीजेपी नेता और महाभारत सीरियल में युद्धिष्ठिर का किरदार निभाने वाले गजेंद्र चौहान को फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एफटीआईआई) के गवर्निंग काउंसिल का अध्यक्ष बनाए जाने पर छात्रों ने बवाल कर दिया है. नियुक्ति की खबर आने पर संस्थान के छात्र अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं. चौहान की नियुक्ति का विरोध कर रहे छात्रों का कहना है कि राजनीति और एफटीआईआई साथ नहीं चल सकते.

सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने हाल ही गजेंद्र चौहान को ये जिम्मेदारी देने का फैसला लिया है. चौहान को गुलजार, श्याम बेनेगल, अदूर गोपालकृष्णन पर वरीयता दी गई है. बीजेपी के कल्चरल सेल के सह-संयोजक की हैसियत से जुड़े चौहान को एफटीआईआई का अध्यक्ष 9 जून को नियुक्त किया गया. चौहान बी.आर. चोपड़ा द्वारा निर्मित-निर्देशित ‘महाभारत’ में युधिष्ठिर की भूमिका के लिए जाने जाते हैं. उन्होंने ‘तुमको ना भूल पाएंगे’ और ‘बागबां’ जैसी फिल्मों में छोटी-छोटी भूमिकाएं भी निभाई है. 

मुझे एक मौका दें: चौहान

इस मसले पर चौहान ने कहा है कि उनके बारे में कोई राय बनाने से पहले वह अपनी क्षमता दिखाने का एक मौका पाने के हकदार हैं. चौहान ने विद्यार्थियों के साथ एक बैठक का आग्रह भी किया. उन्होंने कहा कि किसी निष्कर्ष पर पहुंचने से पहले मामले पर बैठ कर बातचीत कर लेनी चाहिए. उन्होंने कहा, ‘मैं उनसे अनुरोध करूंगा कि बातचीत की मेज पर आएं और बातचीत करें. यदि आप अब भी ऐसा ही सोचते हैं तो हम कोई दूसरा विकल्प चुनेंगे.’