मुंबई. बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्‍चन की बेटी श्वेता बच्चन नंदा से अक्सर यह सवाल किया जाता है कि ‘कौन सी चीज उनके पिता को कूल बनाती है? और श्वेता का जवाब अक्सर ये रहता है कि  बदलते समय के अनुरूप खुद को ढालने की महानायक की कला ही उन्हें कूल बनाती है. यह कला उन्हें आज की पीढी के अनुरूप बनाती है. 
 
74 वर्षीय बच्चन ने अपने 73वें जन्मदिन पर अपनी बेटी द्वारा लिखे गये एक भावनात्मक पत्र को अपने ब्लॉग पर शेयर किया. इस पत्र में श्वेता ने बताया है कि कौन से चीज बच्चन को ‘लिविंग लीजेंड’ बनाती है. श्वेता ने बॉलीवुड के कई युवा कलाकारों के साथ तालमेल बिठा लेने की बच्चन की क्षमता की भी तारीफ की. 
 
श्वेता ने लिखा, ‘कई बार यह सवाल पूछे जाने के बाद कि ‘आपके पिता को कौन सी चीज कूल बनाती है?’ मुझे यह लगता है कि इसका कोई गुप्त नुस्खा नहीं है. वह बदलते समय के अनुरुप खुद को ढाल लेते हैं. यह जितना आसान है उतना ही मुश्किल भी है.’ 
 
उन्होंने लिखा, ‘वह नई पीढी के संगीत, कला या पहनावे को लेकर नकारात्मक नहीं होते. वास्तव में उन्होने इन सभी चीजों के साथ सामंजस्य स्थापित कर लिया है. वह कभी भी बदलते दौर में पीछे नहीं रहते. वह नई तकनीक, जैसे कि सोशल मीडिया के मामले में भी उस्ताद हैं. वह इन सभी चीजों में शीर्ष पर हैं.’ 
 
श्वेता ने लिखा, ‘वह समय के साथ चलने के लिए खुद को तैयार कर लेते है. मैंने एक रात फिल्म निर्माता करण जौहर के घर पर डिनर पर उन्हें एक कमरे में सफल युवाओं से घिरा हुआ देखा था. उन्होंने उन सभी को प्रभावित किया था लेकिन सबसे खूबसूरत चीज यह थी कि वहां से सबसे ज्यादा ज्ञान लेकर घर लौटने वालों में वही थे.’
 
उन्होंने लिखा, ‘उनकी लोकप्रियता समय की कसौटी पर खरी उतरी है. उन्हें बदनाम करने वाले अभियान, थोड़े समय के लिए राजनीति, एक घातक दुर्घटना जैसी चीजों का सामना करना पडा है.’ श्वेता ने लिखा, ‘उन्होंने आज भी खुद को युवा कलाकारों वाली इंडस्टरी के अनुकूल बनाये रखा है.
 
बता दें कि बिग बी ने ‘एंग्री यंग मैन’ से लेकर ‘लिविंग लीजेंड’ तक का सफर तय किया है.’ हाल ही में रिलीज हुई फिल्म ‘पिंक’ के लिए वाहवाही बटोर चुके बच्चन जल्द ही ‘राम गोपाल वर्मा की फिल्म ‘सरकार 3’ में काम करना शुरू करेंगे.