मुम्बई. आपने एक्स्ट्रा मार्क्स फॉर गुड हैंड राइटिंग तो सुना होगा, लेकिन क्या आपने फुल मार्क्स फॉर स्मार्ट थिंकिंग सुना है? दरअसल मुम्बई की रहने वाली एक बच्ची ने अपनी टीचर के कहने पर रक्षाबंधन पर निबंध लिखा.
 
जिसमें मात्राओं की कई गलतियां थी. बावजूद इसके टीचर को फुल मार्क्स देने को मजबूर होना पड़ा. 10 साल की यह लड़की है नीली शाह. रक्षाबंधन के निबंध में घिसी पिटी बातें करने की जगह नीली ने अपने मन की बात कह दी और छोटी सी उम्र में बड़े खयालात देख टीचर का भी दिल पिघल गया. इस निबंध को एक बार आप भी पढ़ें. आपका दिल भी वैसे ही पिघल जाएगा..
 
 
नीली ने अपने निबंध में लिखा कि ‘इस त्योहार पर एक बहन अपने भाई को राखी बांधती है. राखी सिर्फ एक रंगीन धागा होता है. एक बहन अपनी खुद की रक्षा कर सकती है, फिर भी उसे राखी बांधनी पड़ती है.’ नीली ने आगे लिखा ‘मुझे मेरे भाई से बहुत सारे तोहफे मिलते है लेकिन इन लोगो को समझना चाहिए कि लड़की खुद की रक्षा कर सकती है. तो भी हमें तोहफे मुफ्त मिलते हैं’
 
 इसकी जानकारी ट्विटर पर एके पंडितजी नाम के हैंडल पर मिली. नीली का निबंध पढ़ कर आपको क्या लगता है कि टीचर ने सही किया कि नहीं.