मुंबई. बॉलीवुड के रैपर हनी सिंह का जब कभी जिक्र होता है तो अपने आप ही यो यो लग जाता है. जो इस बात का खुदा गवाह है कि म्यूजिक के प्रति लोगों में उनकी किस हद तक दीवानीगी है. हनी सिंह किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं. हनी के कद से पहले उनका संगीत चलता है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
पूरा देश उनके पार्टी नंबर पर आज भी थिरकता है और आगे भी थिरकता रहेगा. अंग्रेजी वीट, मैं शराबी, चार बोतल वोद्का, लुंगी डांस, और गल बन गयी का जैसे गानों का तोड़ शायद ही कभी निकल पाए. हनी ने जो किया वो कालजयी है और जो करेंगे वो भी इतिहास के पन्नों में दर्ज होगा.
 
हालांकि हनी से कुछ दिनों पहले एक बड़ा कदम उठाते हुए अपने फैन्स के लिए एक संदेश जारी किया था कि वो बाइपोलर डिसीज के ग्रस्त थे और अभी रिकवरी कर रहे हैं. इतनी ईमानदारी एक बड़े कद का कलाकार ही दिखा सकता है. हनी सिंह हमेशा से अपने संगीत मैं कुछ ना कुछ नया देतें आये हैं.
 
हनी सिंह हमेशा कुछ ना कुछ नया सीखकर अपने गानों मैं हर वक्त एक फ्रेश अंदाज भरते हैं. हनी सिंह फ़िलहाल बांसुरी और ड्रम बजाना सीख रहे हैं. यही एक बड़े कलाकार की खूबसूरती होती है कि वो विपरीत और बचे हुए समय में अपनी धार को और पैनी करता है.
 
हनी के प्रवक्ता इन खबरों की पुष्टि करते हुए कहते हैं ‘म्यूजिक ही है, जो हनी सिंह को बयां करता है. हनी इसका पर्याय हैं. वर्तमान में वो अपनी संगीत महारथ को और ज्यादा सिद्ध करने में जुटे हैं.वो बांसुरी और ड्रम दोनों को बहुत ही शिद्दत से सीख रहे हैं.”
 
 

इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर