नई दिल्ली. मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को उनके फिल्म रिव्यूज़ के लिए भी जाना जाता है लेकिन अब खुद केजरीवाल पर आधारित एक डॉक्यूमेंट्री को टोरंटो इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में दिखाया जाने वाला है. यह फिल्म केजरीवाल के भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन से सत्ता तक पहुंचने के सफर पर आधारित है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
फिल्म का नाम  An Insignificant Man (एक आम आदमी) है जिसका निर्देशन मुम्बई की खुशबु रंका और विनय शुक्ला ने किया है. फिल्म को लेकर कनाडा के पार्टी सपोर्टर बेहद उत्साहित हैं. इस डॉक्यूमेंट्री को नॉन फिक्शनल पोलिटिकल थ्रिलर की कैटेगरी में रखा गया है.
 
डॉक्यूमेंट्री के बारे में मजेदार बात यह है कि 100 मिनट की इस फिल्म को 400 घण्टों के रियल लाइफ शूट्स से तैयार किया गया है. यह शूट्स केजरीवाल के भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन से राजनितिक पार्टी बनाने तक के सफर के दौरान शूट किये गए थे. फिल्म का पोस्ट प्रोडक्शन करीब दो साल तक चला. 
 
फिल्म के प्रोड्यूसर शिप ऑफ़ थीसिस जैसी कामयाब फिल्म के डायरेक्टर आनंद गांधी हैं. अपनी इस फिल्म के बारे में आनंद गांधी का कहना है कि यह फिल्म अंत तक दर्शक को उसकी सीट से बांधे रखेगी.