न्यूयॉर्क. ट्रंप का बयान मुस्लिमों को अमेरिका में बैन कर देना चाहिए इसको लेकर प्रियंका चोपड़ा ने कहा है कि रिपब्लिकन लीडर डोनाल्ड ट्रम्प के बयान से खुश नहीं है. प्रियंका ने न्यूयॉर्क के मैनहट्टन में ‘TIME 100 गाला’ इवेंट में कहा- आप किसी को जनरलाइज नहीं कर सकते. प्रियंका ने कहा- आतंकवाद का एक चेहरा नहीं होता, मुस्लिम होने का मतलब यह नहीं कि वह आतंकवादी है.
 
बता दें कि ट्रंप ने कहा था कि अमेरिका में मुस्लिमों की एंट्री पर बैन तब तक जारी रहना चाहिए, जब तक देश के प्रतिनिधियों को यह पता न चल जाए कि आखिर हो क्या रहा है. उन्होंने यह भी कहा था कि मुस्लिमों की अमेरिका के लिए नफरत को देखते हुए इस तरह का प्रपोजल दिया जा रहा है.
 
पहले भी ट्रंप ने बयान दिया था
पहले भी ट्रंप ने अपने एक बयान में दावा किया था कि अमेरिका में 11 सितंबर, 2001 को हुए आतंकवादी हमलों के बाद मुसलमानों ने जश्न मनाया था. इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा था कि उनका बयान सौ फीसदी सही है. अमेरिका में मस्जिदों को निगरानी में रखने की जरूरत है. मैं अमेरिका में मुसलमानों के रहने पर डिबेट करना चाहता हूं.
 
बता दें कि TIME मैगजीन ने प्रियंका को दुनिया के 100 सबसे असरदार लोगों की लिस्ट में शामिल किया है. प्रियंका के अलावा इस लिस्ट में ऑस्कर विनर लियोनार्डो डी कैपरियो, फेसबुक फाउंडर और सीईओ मार्क जुकरबर्ग, सिंगर निकी मिनाज और पॉलिटिशियन डोनाल्ड ट्रम्प भी हैं.