मुंबई. बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री शबाना आजमी का कहना है कि अच्छी कहानियां सफल होती हैं. ‘नीरजा’ में अपने दमदार अभिनय से सबका दिल जीतने वाली शबाना ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि फिल्म बायोपिक ही होनी जरूरी है, लेकिन यह एक अच्छी कहानी होनी चाहिए’. 
 
उन्होंने कहा कि असल जिंदगी पर बनी फिल्में रोचक होती हैं व लोगों के अंदर उत्सुकता पैदा करती है. लेकिन अगर फिल्म की कहानी दमदार हो तो वह लोगों को प्रभावित करती है.
 
70 व 80 के दशक की जानी मानी अभिनेत्री शबाना ने कहा है कि लोग नई कहानियों की तलाश में रहते हैं और उन्हें पसंद भी करते हैं. उन्होंने कहा, ‘लोग नई कहानियों की तलाश में रहते हैं और अगर असल जिंदगी से एक अच्छी कहानी मिलती है तो यह लोगों में और अधिक उत्सुकता पैदा करती है. इसलिए जीवनियों या आत्मकथाओं पर कहानियां बनाई जाती हैं’.