जोधपुर. एक्टर सलमान खान की मुसीबतें खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं. सलमान एक मुसीबत से बाहर निकलते हैं तभी दूसरी मुश्किल सामने खड़ी हो जा रही है. सलमान की आज जोधपुर कोर्ट में पेशी हुई. सलमान को ब्लैक बग मामले में आर्म्स एक्ट के तहत सुनवाई के लिए बुलाया गया था.
 
सलमान खान ने अपना बयान दर्ज कराते हुए खुद को बेकसूर बताया. इस मामले की अगली सुनवाई अब 4 अप्रैल को होगी. इसके अलावा आर्म्स एक्ट प्रकरण की सुनवाई अभी कोर्ट में विचाराधीन है. आर्म्स एक्ट प्रकरण में सभी गवाह के बयान पूरे हो चुके हैं. मुल्जिम बयान के लिए कोर्ट ने अब सलमान खान को बुलाया है. 
 
सलमान ने क्या कहा?
सलमान से जज ने सबसे पहले उनका नाम, पता व मजहब पूछा. इसके जवाब में सलमान ने अपना नाम सलमान खान बताया और अपना मजहब इंडियन बताया. खुद पर लगे आरोपों के बाबत उन्होंने इसे साजिश बताया. उन्होंने कहा कि एक अखबार में खबर छपने के बाद साजिश के तहत मामला दर्ज करवाया गया. सलमान ने अपने बयान में कहा कि वे बेहगुनाह हैं और उन्हें वन अधिकारी शिवचंद बोरा ने झूठा फंसाया है. जज ने जब सलमान से कहा कि वे मामले में और कुछ कहना चाहते हैं तो उन्होंने कहा कि उनके वकील मामले में कुछ गवाहों को पेश करेंगे. इसके बाद जज ने मामले की अगली सुनवाई 4 अप्रैल तक बढ़ा दी. 
 
सलमान पर शिकार के 3 मामले 
सलमान पर साल 1998 में फिल्म ‘हम साथ-साथ हैं’ की शूटिंग के दौरान तीन अलग-अलग घटनाओं में हिरणों के शिकार का आरोप है. साथ ही यह भी आरोप है कि शिकार की इन घटनाओं में सलमान ने जिन हथियारों का इस्तेमाल किया. उनके लाइसेंस की अवधि 22 सितंबर 1998 को समाप्त हो चुकी थी. उस समय सलमान के पास दो हथियार थे, जिनमें से एक रिवाल्वर पॉइंट 32 एक राइफल पॉइंट 22 थी.  
 
हिरण शिकार और आर्म्स एक्ट
सलमान के खिलाफ तीन अलग-अलग जगह पर हिरण शिकार और आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज कर 12 अक्टूबर 1998 को गिरफ्तार किया गया था. जहां पांच दिन बाद बो जमानत पर रिहा हुए थे.  
 
भवाद शिकार मामला
इसके बाद भवाद शिकार के एक मामले में 17 फरवरी 2006 को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने सलमान को दोषी करार देते हुए एक साल की सजा सुनाई थी.  
 
घोड़ा फार्म हाउस क्षेत्र में शिकार का मामला
इसके तुरंत दिनों बाद ही सलमान को घोड़ा फार्म हाउस क्षेत्र में शिकार मामले में 10 अप्रैल 2006 को कोर्ट ने दोषी करार देते हुए पांच साल की सजा और पच्चीस हजार का जुर्माना लगाया था.
 
क्या था मामला?
सलमान के खिलाफ शिकार का तीसरा मामला मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में विचाराधीन है, जिसमें फैसला आना बाकी है. इसमें सलमान पर दो काले हिरणों का शिकार करने का आरोप है. इसमें अभिनेता सैफ अली खान, अभिनेत्री नीलम, तब्बू सोनाली बेंद्रे भी सहआरोपी हैं.