नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने बॉलीवुड अभिनेता रणवीर सिंह के साथ ‘बाजीराव मस्तानी’ फिल्म के गाने ‘मल्हारी’ पर ठुमके लगाए. मौका था एनडीटीवी इंडियन आफ द ईयर 2015 पुरस्कार समारोह का. फारूक ने बॉलीवुड के प्रति अपना प्यार जाहिर करते हुए कहा कि अगर वह नेता नहीं होते, तो बॉलीवुड में किस्मत आजमा रहे होते.
 
पुरस्कार समारोह में रणवीर को एंटरटेनर ऑफ द ईयर पुरस्कार से नवाजा गया. वह मंच पर अपना पुरस्कार लेने पहुंचे, तभी उनकी फिल्म ‘बाजीराव मस्तानी’ का गाना बजाया गया. इस पर रणवीर व फारूक ने मिलकर ठुमके लगाए. उनके ठुमकों से वहां मौजूद लोगों को एक सुखद अहसास हुआ.
 
इस मौके पर फारूक ने कहा, “मैं एक नेता की बजाय एक अभिनेता होना पसंद करूंगा. क्योंकि वे जो करते हैं, वो हम नहीं करते और वह (रणवीर) जो करते हैं, मैं वह करना पसंद करूंगा. मुझे इसके लिए अगले जन्म का इंतजार करना होगा.”
उनकी इस बात पर रणवीर ने मजाकिया लहजे में जवाब देते हुए कहा, “मेरे ख्याल से अगर आप अभिनय की दुनिया में आए तो माननीय अमिताभ बच्चन मुसीबत में आ जाएंगे.”