कोलकाता. ‘असहिष्णुता’ पर टिप्पणी को लेकर विवाद खड़ा होने के बाद बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान ने कहा कि वह राजनीतिक या धार्मिक मामलों से जुड़े किसी  भी सवाल का जवाब नहीं देंगे.

कोलकाता में एक कार्यक्रम के दौरान जब शाहरुख से पाकिस्तान के गजल गायक गुलाम अली का कार्यक्रम रद्द होने से जुड़ा एक सवाल पूछा गया तो शाहरूख ने कहा कि किसी राजनीतिक या धार्मिक मामले पर जवाब देने पर दुर्भाग्य से मुझे जो प्रतिक्रिया मिलती है, उसके कारण मुझे नहीं लगता कि मैं इस सवाल का जवाब दूंगा.

क्या कहा था शाहरुख ने

शाहरुख खान ने असहिष्णुता पर बयान देते हुए कहा था कि देश में इस समय असहिष्णुता नहीं, जबर्दस्त असहिष्णुता की स्थिति है.

एक निजी चैनल के कार्यक्रम में शाहरुख़ ने कहा था कि देश में इस समय असहनशीलता तेजी से बढ़ रही है. शाहरुख ने एक मुस्लिम के तौर पर भारत में अपनी जिंदगी के बारे में भी बात की थी. हालांकि बाद में अपने बयान पर उन्होंने माफी मांग ली थी.