मुंबई. फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली ने बताया कि केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड के साथ उनका अब तक का अनुभव अच्छा रहा है. उन्होंने 1996 में फिल्म ‘खामोशी’ के साथ निर्देशन के क्षेत्र में अपने करियर की शुरुआत की थी.
 
भंसाली ने कहा, “नहीं, मैंने सेंसर बोर्ड के साथ किसी भी समस्या का सामना नहीं किया. जब आप अपने काम में इरादा और पवित्रता देखते हैं तो वे समझते हैं। मैं बहुत भाग्यशाली हूं कि सेंसर बोर्ड के साथ मेरा अनुभव अच्छा रहा.”
 
फिल्म ‘बाजीराव मस्तानी’ में संजय लीला भंसाली ने बड़ी सफलता हासिल की है. इस पर भंसाली ने कहा कि कई लोगों का मानना था कि फिल्म दमदार नहीं है. फिल्म के बारे में भंसाली ने कहा, “यह पहले कभी नहीं हुआ, स्क्रिप्ट दमदार नहीं थी, इसके लिए मैंने कहा कि मैं खुद इस पर फिल्म बनाऊंगा। इन 12 सालों में मैंने इसे पुनर्जीवित किया है.”
 
 
IANS