मुंबई. ‘असहिष्णुता’ के मुद्दे पर शाहरुख खान ने आमिर खान का साथ देते हुए कहा कि आमिर के बयान को गलत दिखाया गया है. एक निजी चैनल से बातचीत पर शाहरुख ने सोशल मीडिया को लेकर कहा कि ‘यहां कुछ भी कहा जाए तो कई बार लोग बेवजह परेशान करते हैं. अगर ऐसे लोगों को जवाब न दिया जाए तो वो गालियां देना शुरू कर देते हैं. मुझे नहीं लगता कि यहां किसी को अपनी देशभक्ति साबित करने की जरूरत नहीं है.’
 
उन्होंने इन्टॉलरेंस पर खुद के बयान को लेकर कहा, ”असहनशीलता पर मैंने कोई यू-टर्न नहीं लिया.” शाहरूख ने ये भी कहा कि ‘जब कोई राजनेता धर्मनिरपेक्षता को लेकर इस तरह की बातें करता है. तो वे स्‍वीकार्य होता है. लेकिन कोई अभिनेता जब कुछ कहता है तो उसके मायने कुछ और निकाले जाते हैं.’