नई दिल्ली. वृंदावन में बांके बिहारी का बहुत प्रसिद्ध मंदिर है. देश और दुनिया से हर साल लाखों की तादाद में लोग दर्शन के लिए जाते हैं. कहा जाता है कि आज भी मंदिर के बगीचे में रात में भगवान कृष्ण और उनकी 16 हजार पटरानियां रासलीला करते हैं. इसलिए शाम होते ही मंदिर के द्वार बंद कर दिए जाते हैं.
 
लोगों का विश्वास है कि मंदिर के बगीचे निधिवन में स्थापित रंगमहल में भगवान कृष्ण रात में शयन करते हैं. रंगमहल में आज भी प्रसाद के तौर पर माखन-मिश्री रोजाना रखा जाता है. सोने के लिए पलंग भी लगाया जाता है. सुबह जब आप इन बिस्तरों को देखें, तो साफ पता चलेगा कि रात में यहां जरूर कोई सोया था और प्रसाद भी ग्रहण कर चुका है. इतना ही नहीं परिसर में लगे हुए पेड़ रात में भगवान कृष्ण की 16 हजार पटरानियां बन जाते हैं.
 
क्या है निधिवन का रहस्य, क्या आज भी भगवान कृष्ण वहां रासलीला करते हैं. धर्मचक्र के इस खास एपीसोड में हम आज निधिवन के रहस्य की कहानी सुनाने जा रहे हैं.