नई दिल्ली.मानसरोवर झील देश की पवित्र झीलों में से एक झील मानी जाती है जिसके दर्शन के लिए देश के कौने-कौने से ऋद्धालु पहुंचते हैं. माना जाता है कि यह झील भगवान ब्रह्मा के मन से जुड़ी हुई है संस्कृत शब्द मानसरोवर, मानस तथा सरोवर को मिल कर बना है जिसका शाब्दिक अर्थ होता है – मन का सरोवर. इसके दर्शन के लिए हज़ारों लोग प्रतिवर्ष कैलाश मानसरोवर यात्रा में भाग लेते हैं.
 
समुद्र तल से 17 हजार फीट ऊंची और करीबन 300 फीट गहली झील के लिए माना जाता है कि देवता गण सुबह 3 से 6 बजे तक इस झील में स्नान करते है. बताया जाता है कि यहां देवी सती के शरीर का दांया हाथ गिरा था. इस शक्तिपीठ को पाषाण शिला के रुप में पूजा जाता है.
 
इंडिया न्यूज के खास शो धर्म चक्र में मानसरोवर झील से जुड़ी कई अहम बातों को जानिए.
 
वीडियो में देखें पूरा शो