ऋषिकेश. हरिद्वार में मां दक्षिण काली कलियुग की कल्याणकारी शक्ति हैं जो शत्रुओं से सावधान कर काल की गति को भी बदल देती हैं. सिद्धपीठ की साधना व्यक्ति को समृद्धिशाली और सुखी जीवन प्रदान करती है.
 
आप इसे चमत्कार माने या न माने यह अलग बात है, लेकिन यह असाधारण सी बात जरूर है. इस स्थान की महिमा ही ऐसी है कि देवता स्वयं यहां आने को लालायित रहते हैं. हरिद्वार में नील पर्वत की तलहटी के कजरी वन में गंगा की नीलधारा के तट पर स्थित दस महाविद्याओं में प्रथम सिद्धपीठ मां दक्षिण काली के मन्दिर पर पूरे विश्व के महाकाली साधक पुत्र अपनी अभीष्ट साधना करते हैं. 
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो: