बीजिंग. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीनी प्रधानमंत्री ली केकियांग की वार्ता के बाद विदेश सचिव एस जयशंकर ने कहा कि चीन ने भी भारत की तरह आतंकवाद के खिलाफ जंग को लेकर अपनी प्रतिबद्धता जताई है. उन्होंने बताया, ‘भारत ने चीन के प्रधानमंत्री ली केकियांग को भारत आने का न्योता दिया है, जबकि चीन ने भारत के रक्षा मंत्री को अपने यहां आने का निमंत्रण दिया है.’

विदेश सचिव के मुताबिक, भारत और चीन मिलकर युद्धाभ्यास करेंगे, लेकिन चीन की तरफ से अभी तक ई-वीजा के मुद्दे पर कोई फैसला नहीं हुआ है. वन बेल्ट, वन रोड पर कोई बात नहीं हुई, इस मुद्दे पर तभी बात होगी जब चीन चाहेगा.’