मुंबई. शेयर बाजार में आज सुबह से बड़ी गिरावट देखी जा रही है. बीएसई सेंसेक्स खुलते ही करीब एक हजार अंक गिर गया. अभी सेंसेक्स करीब साढ़े आठ सौ अंक नीचे चल रहा है. दुनिया भर के शेयर बाजारों में गिरावट का अशर भारतीय शेयर बाजार में भी देखा जा रहा है. सेंसेक्स के अलावा निफ्टी में भी ढाई सौ अंक से ज्यादा की गिरावट है.
 
रुपया 2 साल के सबसे निचले स्तर पर पहुंचा
डॉलर के मुकाबले रूपया दो साल के सबसे निचले स्तर तक पहुंच गया है. एक डॉलर की कीमत करीब साढ़े 66.40 रुपये तक पहुंच गई है. विदेशों में अमेरिकी मुद्रा के कमजोर होने के कारण पूंजी के निकास के बरकरार रहने के कारण ऐसा हुआ. आयातकों और बैंकों द्वारा डालर की मजबूत मांग तथा घरेलू इक्विटी बाजारों में भारी नुकसान के कारण स्थानीय मुद्रा पर दबाव बढ़ गया.फोरेक्स डीलरों ने यह जानकारी दी. वैश्विक आर्थिक मंदी की चिंताओं के बीच विदेशों में प्रमुख वैश्विक मुद्राओं के मुकाबले डालर के कमजोर पड़ने के बावजूद रूपये में गिरावट आयी.
 
RBI गवर्नर बोले घबराएं नहीं
स्टाक और रूपये में भारी गिरावट के बीच, आरबीआई के गवर्नर रघुराम राजन ने कहा कि कई अन्य देशों के मुकाबले देश बेहतर स्थिति में है. राजन ने कहा, ‘मैं बाजारों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि मैक्रोइकोनोमिक्स कारक नियंत्रण में हैं, देश के पास 380 अरब डालर का विदेशी मुद्रा भंडार है.’