नई दिल्ली. उधमपुर में एक सुरक्षा दस्ते पर हमले के बाद बुधवार को गिरफ़्तार हुआ पाकिस्तानी आतंकी नावेद के पिता सामने आ गए हैं. नावेद के पिटा का नाम याकूब है और वे पाकिस्तान में रहते हैं. उन्होंने हिंदुस्तान टाइम्स से बातचीत में कहा है कि ये अभागा मेरा ही बेटा है. याकूब ने कहा कि लश्कर और पाकिस्तानी सेना मेरे परिवार के पीछे है और मुझे जान का खतरा भी बना हुआ है. 

22 साल के नावेद को तब गिरफ़्तार किया गया जब तीन गांव वालों ने उसे काबू में कर उसकी बंदूक छीन ली थी. उसने जांचकर्ताओं को बताया कि उसका नाम नावेद है और वो पाकिस्तान से है. सूत्रों के अनुसार नावेद ने बताया है कि वो पाकिस्तान के फ़ैसलाबाद इलाके के ग़ुलाम मुहम्मदाबाद का रहने वाला है और उसके दो भाई और एक बहन हैं. इनमें से एक लेक्चरर है और एक बिजनेसमैन है और वो आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का सदस्य है.