नई दिल्ली. मुंबई ब्लास्ट के आरोपी याकूब मेमन को अब कल फांसी देना तय हो गया है. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने याकूब मेमन की दूसरी मर्सी पेटिशन भी ख़ारिज कर दी है.

असल में राष्ट्रपति ने गृह मंत्रालय से पूछा था कि पेटिशन में मर्सी का नया आधार क्या है. इस पर गृह मंत्रालय ने साफ़ कहा कि इसमें कुछ भी नया नहीं है. इसके बाद राष्ट्रपति ने उसे ख़ारिज कर दिया. याकूब ने पेटिशन में अपनी बीमारी का हवाला दिया था. 

देर शाम गृह मंत्री राजनाथ सिंह खुद राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मिलने राष्ट्रपति भवन गए थे. माना जाता है कि राजनाथ सिंह ने मुखर्जी को याकूब की नई दया याचिका पर सरकार के रुख से अवगत कराया जिसके बाद राष्ट्रपति ने याचिका ठुकरा दी.