नई दिल्ली. पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम का पार्थि‍व शरीर दिल्ली लाया जा चुका है. शोक की इस बेला में एयरपोर्ट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर, राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के साथ तीनों सेना ने बारी-बारी कलाम को श्रद्धांजलि दी. हवाई अड्डे से पार्थि‍व शरीर को सीधे डॉ. कलाम के सरकारी आवास 10 राजाजी मार्ग ले जाया गया है. यहां 3 बजे से आम जनता भी कलाम के आखिरी दर्शन कर सकती है. 
 
डॉक्टर कलाम के पार्थिव शरीर को विशेष विमान से गुवाहाटी से दिल्ली लाया गया. विमान 12:10 बजे दिल्ली पहुंचा. डॉ. कलाम का बुधवार को रामेश्वरम में अंतिम संस्कार किया जाएगा. 10 राजाजी मार्ग पर पूर्व राष्ट्रपति के पार्थि‍व शरीर को अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा. कई केंद्रीय मंत्री, प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति समेत बड़ी संख्या में वीआईपी वहां मौजूद हैं.

कलाम अब हमारे बीच नहीं रहे. सोमवार को शिलॉन्ग में इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट के कार्यक्रम के दौरान उन्हें दिल का दौरा पड़ा और वहीं के एक अस्तपाल उन्होंने आखिरी सांस ली. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी भी अपने कर्नाटक दौरे को बीच रद्द कर दिल्ली लौट आए हैं. पूर्व राष्ट्रपति का बुधवार को गृहशहर रामेश्वरम में अंतिम संस्कार किया जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी रामेश्वरम जा सकते हैं. 

पूर्व राष्ट्रपति के प्रेस सेक्रेटरी रहे एसएम खान ने बताया कि कलाम के पार्थिव शरीर को करीब 12:30 बजे उनके आधिकारिक निवास 10 राजाजी मार्ग पर रखा जाएगा. जहां सशस्त्र बल के जवान उन्हें बंदूकों की सलामी देंगे. इसके बाद उनके पार्थि‍व शरीर को अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा.